Free Content

आजादी का अमृत महोत्सव | UPSC IAS के aspirants के लिए क्या है खास

आज़ादी-की-75वीं-वर्षगाँठ-का-त्योहार-आजादी-का-अमृत-महोत्सव

आजादी का अमृत महोत्सव (#आजादीकाअमृतमहोत्सव)

आशा है आप सभी बहुत अच्छे हैं। आपकी पढ़ाई, यानी के संघ लोक सेवा आयोग की Civil Services Examination की तैयारी भी बहुत अच्छी हो रही है। साथ-साथ जैसा कि सम्पूर्ण भारत वर्ष आज़ादी के अमृत महोत्सव के रँग में डूब रहा है, और पूरे जोश-खरोश के साथ इस गौरवशाली दिन स्वाधीनता की 75वीं वर्षगाँठ के सर्वश्रेष्ठ आयोजन की तैयारियों में जुटा हुआ है। सम्पूर्ण भारतवर्ष में विभिन्न आयोजन किये जा रहे हैं, जिससे की प्रत्येक भारतीय स्वाधीनता प्राप्ति में दी गई विभिन्न क्रांतिकारियों और अहिंसा के सैनिकों के प्राणों की आहुति के मूल्य को समझ सके और आज़ादी के महत्व पर कण भर भी आँच ना आने दे।

जैसा कि उपरोक्त पंक्तियों से विदित है हम आज की इस post में आज़ादी के अमृत महोत्सव से संबंधित महत्वपूर्ण बातों की चर्चा कर रहे हैं।

मैं हूँ अनुपमा चंद्रा और आप मेरे channel पर UPSC Civil Services Examination को Top करने के तरीके सीखते हो। चलिए फिर जल्दी से शुरू करते हैं, स्वाधीनता की 75वीं वर्षगाँठ के उत्सव; आज़ादी के अमृत महोत्सव की चर्चा।

आज़ादी का अमृत महोत्सव का क्या अर्थ है?

आज़ादी अमृत महोत्सव का अर्थ है स्वतंत्रता की ऊर्जा का अमृत; स्वतंत्रता संग्राम के योद्धाओं की प्रेरणा का अमृत; नए विचारों और प्रतिज्ञाओं का अमृत; और आत्मनिर्भरता का अमृत। इसलिए यह महोत्सव राष्ट्र जागरण का पर्व है। सुशासन के सपने को साकार करने का त्योहार; और वैश्विक शांति और विकास का त्योहार। साभार: aajaadikaamritmahotsav.com

आज़ादी का अमृत महोत्सव का आरंभ

अमृत महोत्सव का आरंभ march 2021 में शुरू हुआ था। जो की 75 हफ्तों तक इस उत्सव को मनाने के उद्देश्य से शुरू किया गया था। यह उत्सव 15 अगस्त 2023 तक मनाया जाएगा।

आज़ादी का अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में की गई तैयारियाँ व प्रतियोगिताएँ

और इसके अंतर्गत प्रत्येक राज्य और इसके प्रत्येक जिले में विभिन्न प्रकार की तैयारियां की गई हैं।

तीन रँगो वाली LED की सजावट:

जिनके अंतर्गत राजमार्गों, महत्वपूर्ण इमारतों पर केसरिया सफ़ेद और हरे प्रकाश वाली LED झालरों का लगाना। जो की किसी भी राष्ट्रीय राजमार्ग/ ग्रामीण मार्ग और प्रमुख इमारतों व् ऐतिहासिक महत्व की इमारतों को बहुत ही मनोहारी बनाती हैं।

भत्स नदी पर बने बाँध (शाहपुर, ठाणे, महाराष्ट्र के नजदीक) पर की गई सम्मोहित करने वाली प्रकाशीय व्यवस्था

भत्स नदी पर बने बाँध (शाहपुर, ठाणे, महाराष्ट्र के नजदीक) पर की गई सम्मोहित करने वाली सजावट  – anupmachandra.com (फोटो credit: Google.com)

आजादी का अमृत महोत्सव - तैयारियाँ -- anupmachandra.com

ATC Tower IGI, आजादी का अमृत महोत्सव – प्रकाशीय सजावट — anupmachandra.com (फोटो credit: Google.com)

आजादी का अमृत महोत्सव -- राजमार्ग पर की गई सजावट -- anupmachandra.com

आजादी का अमृत महोत्सव — राजमार्ग पर की गई सजावट — anupmachandra.com (फोटो credit: Google.com)

स्लोगन प्रतियोगिता:

संस्कृति मंत्रालय (भारत सरकार) द्वारा इस प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। इसके अंतर्गत विजेता प्रविष्टि को 30000/- रुपये तक का पुरुस्कार दिया जाना है।
इसमें भाग लेने के लिए अभ्यर्थी को निम्नलिखित तीन चरणों का पालन करना है:
1) इंटरनेट के माध्यम से facebook या twitter जैसे social media platforms पर जाकर @Amritmahotsav को follow करना है।
2) अपने स्लोगन को टाइप करिए।
3) और निम्नलिखित hashtags को लगाना है।
#TirangaSlogan
साथ ही साथ अपने तीन मित्रों को भी tag करिए। और भेज दीजिए।

सेल्फ़ी contest:

संस्कृति मंत्रालय (भारत सरकार) द्वारा इस प्रतियोगिता का भी आयोजन किया जा रहा है। इसके अंतर्गत अभ्यर्थी को तिरंगा पकड़े हुए स्वयं की फोटो या एक संक्षिप्त वीडियो भेजनी है।
तो अभ्यर्थियों इस प्रतियोगिता का पुरुस्कार बहुत ही जबरदस्त है। शायद जिसको सुन कर आप भी बल्लियाँ उछलने लगें। ये है लगभग 1,00,000 रुपये।
इसके लिए भी निम्नलिखित तीन चरणों का पालन करना है।
1) Instagram पर जाइए और @AmritMahotsav को follow करना है।
2) Photo या reel बनाइये।
3) उसके बाद #TirangaWaaliSelfie को टाइप कीजिए और अपने तीन मित्रों को भी tag कर दीजिए। और भेज दीजिए।

वंदे भारतम प्रतियोगिता:

आजादी का अमृत महोत्सव के तहत वंदे भारतम नृत्य प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है। इस प्रतियोगिता द्वारा अखिल भारतीय स्तर पर चुने गए नृत्य (Dance)/ नृत्य समूह को 26 जनवरी 2022 (गणतंत्र दिवस) की परेड के लिए चुना गया है।

हर घर तिरंगा अभियान: (https://harghartiranga.com/)

इस अभियान के अंतर्गत प्रत्येक भारतीय 13 अगस्त से 15 अगस्त के बीच अपने-अपने घरों की छतों पर ध्वजारोहण कर सकते हैं। इसके लिए विभिन्न प्रदेशों/जिलों में विभिन्न सहायता समूहों द्वारा तिरंगे का वितरण भी जारी है। खादी के तिरंगे के साथ polyester का बना तिरंगा भी प्रयोग किया जा सकता है। साथ ही साथ अब तिरंगा शाम को भी फहराया जा सकेगा।

इसके साथ ही नीचे दिए गए infographic से एक बार समझ लेते हैं की राष्ट्रीय ध्वज को ससम्मान कैसे रखा जाए।

anupma chandra upsc ias

सही तरह से राष्ट्रध्वज कैसे रखें — anupmachandra.com upsc ias (फोटो credit: Twitter.com)

DP पर तिरंगा लगाने का अभियान:

सोशल मीडिया पर भारतीय users से display picture अर्थात DP पर तिरंगा लगाने का आह्वान किया गया है। और जैसे जैसे स्वाधीनता दिवस नजदीक आ रहा है, लगभग सभी social media platform पर इस अभियान का प्रभाव स्पष्टत: देखा जा सकता है। सभी social media platforms पर तिरंगे झंडे का समुन्द्र जैसा दिखाई दे रही है।

UPSC Aspirants, आजादी के इस गौरवशाली अवसर पर हमने एक ख़ास सीरीज़ बनाई है जिसको आप YouTube पर देख सकते हैं। इसका लिंक नीचे दिया गया है।

आज की पोस्ट में इतना ही फिर मिलते हैं एक नई पोस्ट में एक नए विषय के साथ और आज़ादी की एक बार फिर से ढेर सारी बधाइयाँ।

धन्यवाद।

 

मेरे YouTube channel के trending videos देखिए

Five movies that you should watch if you are an IAS/IPS/IFS aspirant

6 Hollywood movies that every IAS aspirant must watch.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *